Post-Production meaning

0
169
Post-Production meaning

आज हम बात करने वाले है Post-Production meaning और Final Process के बारे में। Post-Production एक Final Process होता है किसी भी movie के लिए|

Post-Production meaning में सबसे पहले footage को, हमारे प्रोडक्शन में पहले शूट हो चुका है, उसका सारा data system में डाल दिया जाता है। Mainly Post-Production meaning में Editing,Vfx, Audio fx, Bg Score, Sound, Sound mix, Foley sound,Color Grade और फिर Master Print दिया जाता है |

Effect Artist
Post-Production meaning में Effect Artist होते हैं, जो काम करते हैं storyboard और footage में desired element को add करने का |

Compositor इन effects को लेकर compose करता है| Composing means layer को arrangement करना, हर एक element को arrange करना और फिर effect editor Tone और Pacing को add करता है according to the requirement of the effect.

Post-Production meaning

Editing Sound-
Post-Production meaning में sound में Sound editing, Sound designing, Foley Sound, A.D.R और Dialogue editing होते हैं| Editing Third part और major part होता है रिवीजन का | वैसे तो mainly सारे changes हो ही गए होते है production के टाइम पर क्योंकि editing में सिर्फ shots को edit करके cut किया जा सकता है |

Basic Editing में shots को according to script set करना होता है। एडिटिंग फिल्म की और फुटेज को टाइम लाइन में लगाना और उसकी Tone और Pacing को set करना होता है।

Pacing means timing होती है। जैसा कि हम देखते हैं कि फिल्म में क्या चल रहा है। इस सीन से आगे या पीछे कौन सा सीन आना चाहिए, किस टाइमिंग पर, ये सब Pacing के अंदर आता है जो कि एक टाइमिंग होती है मूवी की।

Tone में ये डिसाइड होता है कि क्या एडिट में रखना चाहिए, और क्या रिमूव करना चाहिए? अगर ये चीजें एडिटर एडिट न करें तो सच में फिल्म देखने में बिल्कुल मजा नहीं आएगा। एडिटिंग में Pacing और Tone को सेट करने का काम होता है। Footage और Sound को इस तरह से mix किया जाता है कि proper emotional impact create हो audience के अंदर।

डायरेक्टर के बाद एक एडिटर का ही इतना ज्यादा महत्व होता है एडिट में कि उसे कौन सा shot कैसे edit करना है और फिल्म Tone को ध्यान में रखते हुए एडिट करना है।

Post-Production meaning

Sound Editor
ये responsible होता है फिल्म की sound edit करने में without sound फिल्म एक likeness लगेगी।

Dialogue Editor
इसका काम होता है डायलॉग्स को एडिट करना | प्रोडक्शन के टाइम पर boom mike लगाकर जो डायलॉग रिकॉर्ड किया जाता है, Dialogue Editor उस video footage और उस audio footage को लेकर mix करता है| वो डायलॉग में Clean up, Trimming और Sync करता है|

Sound Designer
इसका काम होता है sound designing करना according to the situation.

Post-Production meaning

Foley Artist
Foley Sound real time में record किये जाते हैं| ये वीडियो को देखकर accordingly different object और techniques use करके sound बनाये जाते हैं |

A.D.R Alternate Dialogue Replacement और Dubbing.
ये प्रोसेस में original footage की voice को replace किया जाता है बाद में रिकॉर्ड या dub की गयी voice के साथ | ये process या तो फिल्म को different language में रिकॉर्ड करना या फिल्म में किसी ऑडियो की voice किसी reason से खराब आती है तो उस में यूज किया जाता है। और ये रिप्लेसमेंट इस तरह से किया जाता है कि वो बिलकुल natural लगे।

Composer Music score देता है | Post-Production meaning Music editor score edit करता है और फिल्म की Pacing और Tone को ध्यान में रखते हुए| Sound edit, Dialogue edit, Sound Design, Score, Timing और shot, High pass, Low pass ये सब Music Editor ही देखता है |

Sound Mix
Sound Mix last process होता है| इसमें चीजों को dialogue, effects, Foley sounds, score हर चीज़ को level के according set किया जाता है कि कोई sound ऊपर नीचे ना हो जाये| Sound अपनी फिल्म को बहुत ही influence करता है| इससे audience को situation का feel आता है और वे emotionally connect हो जाते हैं उस scene के साथ|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here